राहत

जब राहत के दवा लाया राहत इन्दौरी से ।
तब उतरने लगा इश्क़ ए बुखार मेरे सिर से।।

Related Articles

दो शेर

नजर मिला के मेरे हमराज़ वहाँ छोड़ा । देखने आते हैं दो गुलाब जहाँ तालकटोरा।। ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, इश्क़ -ए-राहत के दवा लाया जब इन्दौर से। उतरने…

Responses

New Report

Close