वो मै है थी

एक लम्हा गुजरा मेरे पास से,
गुजर गई
एक पल में
मैं तुम्हारे आसपास से।
और तुम जान भी न सके,
कि हवा
जो तुमको छू कर गई थी!
वह मैं ही थी।
सिहर उठे थे तुम,
और वह सिहरन में ही थी ।

निमिषा सिंघल

Related Articles

Responses

New Report

Close