सारी दुनिया का यही, क्यूँ है ये हाल सही..….!(गीत)

सारी दुनिया  का  यही,  क्यूँ  है  ये  हाल  सही..….! (गीत)

सारी दुनिया  का  यही,  क्यूँ  है  ये  हाल  सही,
बाँहों  में  और  कोई,   ख्यालों  में  और  कोई…
ख्यालों  में  और  कोई,   बाँहों  में  और  कोई..….

यारों,   जिसे  कहते  वफ़ा,   वो  क्या  है  वफ़ा  सही,
वफ़ा  ख़ुद  से  बेवफाईi,   तो  ये  कैसी  वफा,  भाई….
सारी  दुनिया  का  यही,  क्यूँ  है  ये  हाल  सही,
बाँहों  में  और  कोई,   ख्यालों   में  और  कोई ……

जाने  क्या  है  सही  यहाँ,   जाने  क्या  है  गल्त  यहाँ,
जाने  क्या  है  बुरा  यहाँ,   जाने  क्या  है  भला  यहाँ,
जाने  क्या  है  पुण्य  यहाँ,  जाने  क्या  है  पाप  यहाँ,
पाप  क्यूँ  दिल  लुभाए,   रुलाये  क्यूँ  भलाई…….
सारी दुनिया  का  यही  क्यूँ  है  ये  हाल  सही,
बाँहों  में  और  कोई,   ख्यालों  में  और  कोई…

जाने  ये  कैसे  हुआ,   झूट  ही  सच  है  यहाँ,
जिसे  सच  कहते  सभी,   वो  तो  सच  है  ही  नहीं…..
सारी दुनिया  का  यही,  क्यूँ  है  ये  हाल  सही,
बाँहों  में  और  कोई,   ख्यालों  में  और  कोई…
ख्यालों में और  कोई,   बाँहों  में  और  कोई..….
” विश्व नन्द ”

 

Published in गीत

Related Articles

प्यार अंधा होता है (Love Is Blind) सत्य पर आधारित Full Story

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ। निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा॥ Anu Mehta’s Dairy About me परिचय (Introduction) नमस्‍कार दोस्‍तो, मेरा नाम अनु मेहता है। मैं…

कोरोनवायरस -२०१९” -२

कोरोनवायरस -२०१९” -२ —————————- कोरोनावायरस एक संक्रामक बीमारी है| इसके इलाज की खोज में अभी संपूर्ण देश के वैज्ञानिक खोज में लगे हैं | बीमारी…

आज़ाद हिंद

सम्पूर्ण ब्रहमण्ड भीतर विराजत  ! अनेक खंड , चंद्रमा तरेगन  !! सूर्य व अनेक उपागम् , ! किंतु मुख्य नॅव खण्डो  !!   मे पृथ्वी…

Responses

New Report

Close