होरी

धूम मची है आज व्रज मेँ
बरसाने मेंं थोड़ी।
आजा मेरे मोहन प्यारे
खेलन हमसे होरी ।।

Related Articles

Responses

New Report

Close