Is tanhai ke rele me

इस तन्हाई के रेले में,
आ जाते हो तुम खयालो में,
याद तेरी दिल से जाती नहीं,
कहां हो तुम खबर आती नहीं,
कैसे दूं मैं दिल को सुकून
कि मुकद्दर में अब तुम नहीं मेरे,
तुम किसी और के हो जाओ
यह दिल को नहीं मंजूर मेरे,
तेरे बिन मुझे कुछ भाता नहीं,
तेरी याद में बस पूरी यूं ही तड़पते हैं,
नैनों से अश्क बहते हैं,
रातों को नींद उड़ जाती है,
बस चले आओ ये आंखें राह देखती हैं |


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - November 14, 2019, 3:17 pm

    बहुत सुंदर

  2. देवेश साखरे 'देव' - November 14, 2019, 4:05 pm

    वाह

  3. राही अंजाना - November 14, 2019, 4:39 pm

    वाह

  4. nitu kandera - November 14, 2019, 5:09 pm

    वाह

  5. Pragya Shukla - December 10, 2019, 10:59 am

    👏👏

Leave a Reply