आखिर माँ तो माँ होती है

हम प्रेम लुटाये कोई जान न पाए
पेट भर के हमारा भूखा सोती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
कोई आंच न आये,हम युही मुस्कुराये
दुख में दिखे हमे तो छुप के रोती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
हमको चलना सिखाये पाठ आचरण का पढ़ाये
ममता के आंचल में हमको संजोती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
सपने पूरे हो जाये यही मांगे वो दुवाएं
हमारी खशियो के खतिर,अपना सब खोती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
मुश्किल कितनी भी आये छोड़ के वो न जाये
छोटी-छोटी खुशियों से घर को पिरोती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
ऐसा कर्म कर जाए सलामत माँ को रख पाए
सबके जीवन की एक ही ज्योति है
आखिर माँ तो माँ होती है-2
माँ को शीश झुकाये,सदा जन्नत ही पाए
वो तो ईश्वर का ही रूप होती है
आखिर माँ तो माँ होती है-2


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

9 Comments

  1. Abhishek kumar - December 4, 2019, 10:56 am

    Good

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 4, 2019, 11:53 am

    Nice

  3. Poonam singh - December 4, 2019, 3:38 pm

    Nice

  4. Ashmita Sinha - December 4, 2019, 6:40 pm

    Nicr

  5. Poonam singh - December 5, 2019, 1:15 pm

    Good

  6. Pragya Shukla - December 9, 2019, 8:48 pm

    वाह

  7. Abhishek kumar - December 14, 2019, 3:50 pm

    सुन्दर रचना

  8. Kanchan Dwivedi - March 7, 2020, 4:58 am

    Good

Leave a Reply