“आरती माँ भारती की”

माँ भारती तेरी आरती ।
तेरी आरती माँ भारती ।।

माँ भारती तेरे निगहबान सीमा प्रहरी हम
पाकर अजेय वरदान डटे हैं सीमाओं पर
इस कर्म-भूमि की माटी है मस्तक का टीका
है कसम मिटा देंगे सब कुछ तेरी आहों पर
माँ भारती तेरी आरती ।
तेरी आरती माँ भारती ।।

देकर अपना लहू सरहदों पर जो सबक बना है
देख तिरंगा गौरव-गाथा का सम्मान तना है
चरण-धूलि जननी तेरी है मलहम इन घावों पर
है कसम मिटा देंगे सब कुछ तेरी आहों पर
माँ भारती तेरी आरती ।
तेरी आरती माँ भारती ।।

रहें तेरी फुलवारी के हर फूल सदा मुस्काते
तेरी इस ममता भरी चाहत को हम शीश झुकाते
बस अमन-चैन ही गुज़रेंगे तेरी राहों पर
है कसम मिटा देंगे सब कुछ तेरी आहों पर
माँ भारती तेरी आरती ।
तेरी आरती माँ भारती ।।

हिन्द-धरा की रक्षा का संकल्प हो दृढ़ वर देना
जनम-जनम सीमा के सेवक हम हों हिन्द की सेना
मिले शुभम्-आशीष सफल हों आशाओं पर
है कसम मिटा देंगे सब कुछ तेरी आहों पर
माँ भारती तेरी आरती ।
तेरी आरती माँ भारती ।।

…अवदान शिवगढ़ी
१५/०८/२०१४
०४:०५ बजे, साँझ
मोहनलालगंज,लखनऊ ।

Related Articles

प्यार अंधा होता है (Love Is Blind) सत्य पर आधारित Full Story

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ। निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा॥ Anu Mehta’s Dairy About me परिचय (Introduction) नमस्‍कार दोस्‍तो, मेरा नाम अनु मेहता है। मैं…

जंगे आज़ादी (आजादी की ७०वी वर्षगाँठ के शुभ अवसर पर राष्ट्र को समर्पित)

वर्ष सैकड़ों बीत गये, आज़ादी हमको मिली नहीं लाखों शहीद कुर्बान हुए, आज़ादी हमको मिली नहीं भारत जननी स्वर्ण भूमि पर, बर्बर अत्याचार हुये माता…

“काशी से कश्मीर तक सद्भावना यात्रा सन1994”

“काशी से कश्मीर तक सद्भावना यात्रा सन1994” किसी भी यात्रा का उद्देश्य सिर्फ मौजमस्ती व् पिकनिक मनाना ही नहीं होता | यात्राएं इसलिए की जाती हैं…

कूटनीति

कूटनीति… राजनीति वट वृक्छ दबा है घात क़ुरीति की झाड़ी मे धूप-पुनीति को अम्बु-सुनीति को तरसे आँगन-बाड़ी ये कूटनीति सा कोई चोचला मध्य हमारे क्युं…

Responses

New Report

Close