गैया मैया

रूखी सूखी खाकर भी
अमृत का पान कराती है।
वो तो गैया मैया है अपनी
जो हर विपदा से बचाती है।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

3 Comments

  1. Pragya Shukla - May 23, 2020, 9:02 pm

    Good

  2. Abhishek kumar - May 23, 2020, 9:06 pm

    👏

Leave a Reply