दवा-ए-वियोग

नब्ज टटोलकर भी पूछते हो
तुम्हें रोग क्या है ?
दिल दिलदार का पूछता है
दवा-ए-वियोग क्या है?

Related Articles

Responses

New Report

Close