मेरे बापू गांधी जी

मेरे बापू गांधी जी

मेरे बापू गांधी

दयावान मृदु भाषी बापू का स्वभाव था
सत्य अहिंसा मेरे बापू का हथियार था
राष्ट्रवादी शांतिप्रिय बापू का उपदेश था
हिंदुस्तान के मर्यादा का बापू को ज्ञान था

गर्व था देशवासियों को बापू के हुंकार पर
ऐंनक पहने लाठी लेकर देश को आजाद किया
खट्‌ खट्‌ की आवाज में बापू का प्यारा संदेश था
चरखे के बल पर बापू ने रचा स्वर्णीम इतिहास था

गोरों को औकात दिखाया उनके ही चालो में
राष्ट्रहित में ध्वजा फहराकर देश का मान बढ़ाया
बापू के पीछे पीछे हिन्द सेना जब चलती थी
गोरों कि फौज डरें सहमे छिपते फिरती थी

गोरों के अत्याचारों से गली मोहल्ला थर्राया था
बापू ने अपने आंदोलन से गोरों को पस्त किया था
गोरे शैतानों को उनके भाषा में सबक सिखाया
बापू के चरणों का मैं शीश झुका वन्दन करता हूं

महेश गुप्ता जौनपुरी

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

33 Comments

  1. देवेश साखरे 'देव' - September 27, 2019, 3:10 pm

    वाह

  2. Poonam singh - September 27, 2019, 5:52 pm

    Nice

  3. Vivek Panday - September 27, 2019, 6:23 pm

    Very nice poem gandhi

  4. NILESH PAL - September 27, 2019, 6:30 pm

    Good poem Mahesh jaunpuri

  5. NIMISHA SINGHAL - September 27, 2019, 6:31 pm

    Nice

  6. Mahesh Manisha - September 27, 2019, 10:21 pm

    Gandhi is great and national father

  7. Drx Nagesh Gupta - September 28, 2019, 11:16 pm

    Nice poetry

  8. Pratima kharwar - September 29, 2019, 10:07 am

    very nice poetry

  9. Jai hind Yadav - September 29, 2019, 10:15 am

    Nice..

  10. APL Raj - September 29, 2019, 3:39 pm

    बहुत अच्छा

  11. Mohit Sharma - September 29, 2019, 4:34 pm

    Bahut khoob

  12. Jawalal Sharma - September 29, 2019, 6:23 pm

    Very good poem Gandhi

  13. APL Raj - September 29, 2019, 7:43 pm

    वाह बहुत बढ़िया प्रस्तुति

  14. Asheesh kumar Rajak - September 29, 2019, 7:45 pm

    क्या बात है बहूत सुंदर जी

  15. Chandan Pandey - September 30, 2019, 12:44 pm

    Nice poem

  16. Sunil Premchandj - October 1, 2019, 5:40 pm

    Very nice poem god bless you

  17. Prince Wahid - October 1, 2019, 10:04 pm

    Very Nice

Leave a Reply