Mai tere prem me krishna

मैं तेरे प्रेम में कृष्णा,अपना नाम कर दूंगी,
जो तू न आया तो तेरी याद में सुबह शाम कर लूगी,
मैं राधा नही मीरा नहीं मैं भी एक योगन हूं,
तेरी मुरली की धुन सुनने को मैं भी व्याकुल हू,

मै तेरे प्रेम मे कृष्णा मै अपना नाम कर दूगी,
जो तू न आया तो तेरी याद मे सुबह शाम कर लूगी,
तू आए न आए यह तो तेरी मर्जी है ,
पर इतना समझ ले तू कि मैं तेरे चरणों की दासी हू,

मैं तेरे प्रेम में कृष्णा अपना नाम कर दूंगी,
जो तू न आया तो तेरी याद मे सुबह शाम कर लूगी,
गर आया तू कृष्णा तो तेरा उपकार समझूगी,
तेरे दर्शन को पाकर मैं जीवन धन्य कर लूंगी |

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

12 Comments

  1. राही अंजाना - September 12, 2019, 2:31 pm

    वाह

  2. देवेश साखरे 'देव' - September 12, 2019, 3:29 pm

    सुंदर रचना

  3. DV - September 12, 2019, 3:55 pm

    Beautiful poetry ..well written

  4. राम नरेशपुरवाला - September 12, 2019, 11:00 pm

    👌

Leave a Reply