नील पदम्

About the Poet

Name

नील पदम्

About

रोटी के जुगाड़ से बचे हुए समय का शिक्षार्थी

मौलिकता मेरा मूलमंत्र, मन में जो घटता है उसमें से थोड़ा बहुत कलमबद्ध कर लेता हूँ । सिर्फ स्वरचित सामग्री ही पोस्ट करता हूँ ।

शिक्षा : परास्नातक (भौतिक शास्त्र), बी.एड., एल.एल.बी.

काव्य संग्रह: इंद्रधनुषी, तीन

नाटक: मधुशाला की ओपनिंग

सम्पादन: आह्वान (विभागीय पत्रिका)