प्रज्ञा जी की कविता ‘वनिता’ को प्राप्त हुई सराहना

हाल ही में प्रज्ञा जी की कविता ‘वनिता’ को प्रेस में काफ़ी सराहना मिली। सावन परिवार प्रज्ञा जी के लिये कामना करता है कि उनको काव्य की दुनिया में हर दिन नई ऊंचाई और दिशा मिले।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

12 Comments

  1. Anjali Gupta - September 9, 2020, 2:45 pm

    congratulations dear pragya

  2. Geeta kumari - September 9, 2020, 2:45 pm

    Are wah,many many congratulations pragya, keep it up…💐

  3. Satish Pandey - September 9, 2020, 2:50 pm

    प्रज्ञा जी को बहुत बहुत बधाई और निरंतर उन्नति करती रहें यह शुभकामनाएं हैं

  4. प्रतिमा चौधरी - September 9, 2020, 2:53 pm

    Congratulations pragya ji

  5. Anu Singla - September 9, 2020, 3:10 pm

    Congrats Pragya g

  6. Pragya Shukla - September 9, 2020, 3:36 pm

    इतनी अटेंशन पाकर मुझे लाज आ रही है….
    Thank you so much saavan

  7. Praduman Amit - September 10, 2020, 4:31 pm

    मुझे खुशी है कि आपकी रचना को स्तरीय पत्रिका वनिता के माध्यम से सराहा गया। आप इस तरह ही कामयाबी के घोड़े पर सवार हो कर बुलंदी को स्पर्श करती रहे। बहुत बहुत बधाई हो प्रज्ञा जी ।

Leave a Reply