मेरे पास

धीरे से मेरे पास आ जाता है कोई
मेरे दिल को लुभा जाता है कोई
मेरे कान में मीठे स्वर बोल
परछाई बन जाता है कोई
मेरा मन ज़रा बेचैन है
उसको ज़रा सा भी नहीं चैन है
दर्शन दे मन शांत कर जाता है कोई
धीरे से मेरे पास आ जाता है कोई

हिमांशु के कलम की जुबानी


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. Pragya Shukla - May 11, 2020, 11:44 am

    Good

  2. Abhishek kumar - May 11, 2020, 12:02 pm

    Good

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - May 11, 2020, 12:31 pm

    Nice

Leave a Reply