तुम वीर मेरे

तुम वीर मेरे तुम वीर मेरे
हम साथ तेरे मनमीत मेरे

जिस पल लगे तुम हार गये
समझो उस पल तुम जीते गये

आजा के अब अँखिया तरस गई
आँखों के आँसू सूख गये

तुम हो और रहोगे हमेशा दिल में
आवाम ये कहते रह गये..

#UniqueMaya


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

सरहद के मौसमों में जो बेरंगा हो जाता है

आजादी

मैं अमन पसंद हूँ

So jaunga khi m aik din…

5 Comments

  1. Feran kurrele - July 19, 2016, 6:58 pm

    bahut khoob

  2. Puneet Mittal - July 28, 2016, 11:41 am

    lajabaab

  3. राम नरेशपुरवाला - September 23, 2019, 7:50 am

    वाह

  4. Pragya Shukla - December 9, 2019, 8:34 pm

    Good

Leave a Reply