भोजपुरी होली गीत 1-सगरो फगुनिया |

भोजपुरी होली गीत 1-सगरो फगुनिया |
आवा गोरी रंग देई तोहरो बदनीया |
देखा चढ़ल सबके सगरो फगुनिया |
रंगे केहु गाल गुलाबी |
केहु रंगे बाल शराबी |
रंगवा लगाला ना होई खराबी |
रंगवा हउवे प्रेमवा के चाबी |
बोला गोरी रंग देई तोहरो ओढ़निया |
आवा गोरी रंग देई तोहरो बदनीया |
चढ़ल केहु पर फागुन क नसा |
चढ़ल केहु पर होली क नसा |
चढ़ल केहु पर सजनी क नसा |
महकल काहे फागुन गोरी तोहरो जवनिया |
आवा गोरी रंग देई तोहरो बदनीया |
केहु खेले होरी भर पिचकारी |
गुलाल उढ़ावे केहु झोरी झारी |
केहु बजावे झाल मंजीरा |
केहु गावे झूमी खूब जोगिरा |
मन करे रंग देई गोरी तोहरो नथुनीया |
आवा गोरी रंग देई तोहरो बदनीया |

श्याम कुँवर भारती [राजभर] कवि ,लेखक ,गीतकार ,समाजसेवी ,

मोब /वाहत्सप्प्स -9955509286

Related Articles

जोगिरा

जोगिरा केवन देश मे जनम लिए घनश्याम | केवन देश मे जनम लिए राम भगवान | जोगिरा सारा रा रा रा रा | गोकुला मे…

Responses

New Report

Close