Shyam Kunvar Bharti's Posts

भोजपुरी गीत – बड़ा प्यार आवेला |

भोजपुरी गीत – बड़ा प्यार आवेला | हमके त यार याद तू हर बार आवेला | काहे हमके त तोहरे पर बड़ा प्यार आवेला | मिलना होई की ना हमके कुछउ ना पता | हमार जान हऊ मत करिहा तू हमसे खता | प्यार बा तोहरे दिल मे इ बस सवाल आवेला | हमके त यार याद तू हर बार आवेला | उजड़ल दिल के कब सजईबु बतावा हमके | बन के फूल कब महकइबु सुनावा हमके | तोहरा अईले से उजड़ल बाग मे बहार आवेला | हमके त यार याद तू हर बार आवेला | हंसेलु त जईसे... »

भोजपुरी पारंपरिक होली गीत – ये किसन कन्हईया |

भोजपुरी पारंपरिक होली गीत – ये किसन कन्हईया | होली मे करेला काहे बलजोरिया ये किसन कन्हईया | चुनरिया रंग देला मारी पिचकरिया ये किसन कन्हईया | केतनो लुकाई जहवा भाग जाई | खोजी हरदम हमके रंगवा लगाई | मनबा ना त कहब यशोदा मईया | ये किसन कन्हइया | जब हम जाई यमुना किनरवा | लुकाई भिंगाई देला मोर अंचरवा | छोड़ेना ना हमके केवनों ठहियां | ये किसन कन्हइया | गोरे गाल रंग देला कइसन ढंग बा | छूटे नाही कबों श... »

भोजपूरी पारंपरिक होली गीत – गोकुला के दुआर |

भोजपूरी पारंपरिक होली गीत – गोकुला के दुआर | कान्हा आवा हाली हो गोकुला के दुआर | करा ना साजन तू हमके इनकार | कान्हा आवा हाली हो गोकुला के दुआर | बितले जड़वा आइल बहार बसंती | निरखे रूपवा तोहार हम तरसी | बहे लागल हो देखा फगुआ बयार | कान्हा आवा हाली हो गोकुला के दुआर | हाथ जोरी कान्हा कहे तोहसे राधा | होरी खेलब तोहसे नाही होई बाधा | श्याम करा तनी हो अब हमरो विचार | कान्हा आवा हाली हो गोकुला के दुआर | ... »

भोजपुरी सरस्वती वंदना – विनवा के तार |

भोजपुरी सरस्वती वंदना – विनवा के तार | झन झंकार बाजे माई तोर वीनवा के तार | हंस चढ़ी चली आवा माई हाली हमरे द्वार | अज्ञानी अनाड़ी तोहके हम हरदम पुकारेली | सुनर गोर रूपवा माई हम एकटक निहारेली | बल बुद्धि देतु माई करा हमरो उद्धार | झन झंकार बाजे माई तोर वीनवा के तार | दुनिया मे केहु नईखे बिना तोहरे मोर सहारा | डलतू नजरिया हमरो मिल जात अब किनारा | तोहरों चरनिया पूजे माने सारा संसार | झन झंकार बाजे माई ... »

गीत – जान ए जिगर |

गीत – जान ए जिगर | तेरी नजर का करम मुझपर अगर हो जाये | मिल जाये साथ तेरा आसान सफर हो जाये | लहराकर तेरी जुलफ़े हवाओ जब बलखाती है| सच कहूँ बिन मौसम सावन असर हो जाये | तेरे नजरो का तीर दिल पर जब लगते है | मेरे सनम अब मेरी जान पर कहर हो जाए | देख तेरे होठो की मुस्कान घायल हम हुये | तुम नगमो के गीत हर लब्ज बहर हो जाये | तेरी कातिल अदाए गिराती दिल पर बीजलियाँ | चलो न चाल मचल जख्मी शहर हो जाये | आय... »

भोजपुरी गजल- प्यार के भिक्षा |

भोजपुरी गजल- प्यार के भिक्षा | चलावा न तीर नजर गदर दिल पर मची जाई | दम केकरा मे तोहरे नजर के असर बची जाई | क़तल करे के छुरी भा तलवार का जरूरत बा| फेरि दा नजर पल भर मे जान केहु छूटी जाई | देखि के रूप सुनर हर केहु प्यार कइल चाहे | डाल देबू नजर जेकरा उ दुनु हाथ लूटी जाई | चाहे करा तू गुरूर जेतना दिल दे दा हमरा के | करबू जे इंकार जान तड़प दिल केहु टूटी जाई | आइल जवानी निखार बहार सगरो अइबे करी | चला देबू... »

हिन्दी गीत- तुम झूठी या मै झूठी

हिन्दी गीत- तुम झूठी या मै झूठी चलो दोनों बात आज सच कहते है | तुम झूठी या मै झूठा चलो दोनों बात आज तय करते है | मुझको आता नही है चैन तुझको देखे बिना | क्यो कर लिया है प्यार तूने मुझको परखे बिना | एक दूजे के दिल क्यो हम रहते है | चलो दोनों बात आज सच कहते है | तुम झूठी या मै झूठा चलो दोनों बात आज तय करते है | जब आती है याद मेरी तुम क्यो तड़प जाते हो | हो के बेचैन मेरी बांहों मे क्यो मचल जाते हो | क्य... »

गज़ल – प्यार की महक |

गज़ल – प्यार की महक | तुम्हारे प्यार की महक अभी बाकी है | दूरिया ही सही तेरी याद अभी बाकी है | रहे जहा बनके चाँद तू चमकता रहेगा | तू पास रहे न रहे धमक तेरी बाकी है | जिंदगी रेत सही बना लो घरौंदा मुझे | मै जुगनू ही सही चमक अभी बाकी है | याद करोगे जब भी पास मुझे पाओगे | मचल कर आओ चाहत अभी बाकी है | बिरान जिंदगी तेरी गुलशन बना दूंगा | जहां हो चर्चा तेरा ललक अभी बाकी है | तेरे सिवा नजरों मेरे कोई टिकता... »

कविता -मकर संक्रांति चलो मनाए |

कविता -मकर संक्रांति चलो मनाए | मकर संक्रांति आई पतंग चलो उड़ाए | उड़े ऊंचाई जैसे सोच पेंच चलो लड़ाये | डोर पतंग की थाम खूब तुम रखना | कट न जाये उम्मीदे डोर चलो बचाए | उड़ने दो अरमानो को उंची पतंग जैसे | गिर ना जाये जमीन जमीर चलो बचाए | सर्दियों का मौसम ठंड है बहुत यहा | काँपते गरीब को कंबल चलो ओढ़ाए | दही चूड़ा तिलकुट है मजा खूब लेना | वहा भूखे प्यासों की भूख चलो मिटाये | अहले शुबह गंगा स्नान तुम कर ले... »

गीत- क्या चाहते हो |

गीत- क्या चाहते हो | दूर जो जाऊ पास बुलाते हो | पास जो आउ नजरे चुराते हो | सच बताओ तुम क्या चाहते हो | मालूम है तुमको तुमसे प्यार है कितना | सागर की गहराइयों से गहरा है उतना | उतर आंखो दिल चले जाते हो | सच बताओ तुम क्या चाहते हो | मुझे देख तेरा यूं मुसकुराना है गजब | पास आकर तेरा यूं गुंगुनाना है अजब | नजरे मिला फिर नजरे चुराते हो | सच बताओ तुम क्या चाहते हो | बुलाऊँ तुम्हें तुम पास आते नही हो | प... »

बिरह भक्ति गीत- मेरे श्याम सावरिया |

बिरह भक्ति गीत- मेरे श्याम सावरिया | चुराकर दिल मेरा मुझे दीवाना बना दिया | सुनो मेरे श्याम सावरिया | सुनाकर मीठी बाते मुझे अपना बना दिया | सुनो मेरे श्याम सावरिया | नैनो मे बसकर चल दिये कहा चुपके चुपके | तेरे बिना राधा रोये सबसे छुप छुपके | करके जुदा मुझे खुद से बेगाना बना दिया | सुनो मेरे श्याम सावरिया | जब पास होते थे मीठी मुरली सुनाते थे | आओ प्यारी राधा आओ मुझको बुलाते थे | छोड़ गए छलिया मुझको... »

कविता-स्वागत नए साल का |

कविता-स्वागत नए साल का | बीत गया वर्ष दो हजार बीस स्वागत नए साल का | गुजरा वो सब पर रहा भारी पुछो न अब हाल का | जारी रहा कहर कोरोना फैलाता रहा खूब जहर | मँडराता रहा मौत का साया सहमा रहा हर शहर | दुआ करो आए नव वर्ष लाये सपना खुशहाल का | लोग बेरोजगार हुये किसान मजदूर सब लाचार हुये | पसरा सन्नाटा शहर अस्पताल मरीज भरमार हुये | क्या बताए भुखमरी बेकारी व देश खस्ताहाल का | लगा चक्का जाम हैरान जनता देश हा... »

कतरा ए गजल

कतरा ए गजल तू मेरी चाहत आहत मेरा दिल कर दिया | कह सर्वोपरि राहत मेरा दिल कर दिया | तेरे हुश्न का चर्चा अब सरेआम हो रहा | मै तेरा आशिक अब बदनाम हो रहा | गुलाबी गाल होंठ लाल नैन कजरारे है | काली जुल्फ़े गाल काला तिल बेकरारे है | तेरे नजर के वार दिल घायल हुआ जाता है | होंठो मंद मुस्कान कोई पागल हुआ जाता है | आ बैठ मेरे पास हवाओ तेरी जुल्फ़े लहरा दूँ | फलक के चाँद तारे तेरी जुल्फ़े गजरा लगा दूँ | तुझसे ह... »

गीत – वो मुस्कुरा रहे है |

गीत – वो मुस्कुरा रहे है | दिल तोड़कर है मेरा नाजो अदा वो मुस्कुरा रहे है | गिरा कर है घर मेरा अपना घर वो बसा रहे है | बड़ा ही हसीन गुल था वो मेरे गुलिस्ताँ का | उजाड़ कर है बाग मेरा गैरो वो महका रहे है | खाया जख्म ऐसा फिर हम संभल न पाये | थाम गैर बाहे मेरे जख्मो नमक वो लगा रहे है | पुछा मैंने आप आए नही कल रात कहा थे | इसकी इतनी जुर्रत मुझको फांसी वो चढ़ा रहे है | मिलेगी इश्क मे ऐसी सजा मैंने सो... »

गीत- बेवफा हो सकता नही |

गीत- बेवफा हो सकता नही | इश्क हो और रुसवाई न मिले हो सकता नहीं | मेरे बिन तू और तेरे बिन मै रह सकता नही | तेरी खामोसिया कहती है बहुत कुछ मगर | आंखे कर जाती बया बिन कहे बहुत मगर | तू मुझे और मै तुझे कभी भूल सकता नही | मेरे बिन तू और तेरे बिन मै रह सकता नही | तेरे दिल की बात रुक जाती जुबां आते आते | तेरी यादे रुला जाती मुझे सदा जाते जाते | तू मुझे मै तुझे बात दिल कह सकता नहीं | मेरे बिन तू और तेरे ब... »

भोजपुरी बिरह गीत- ये निरमोही सइया |

भोजपुरी बिरह गीत- ये निरमोही सइया | जड़वा के रतिया ननदी कटले ना कटात | ये निरमोही सइया अँखिया नींदियों ना आत | कराई के बिदाइ हमके घरवा बईठवला | जबसे तू गईला संदेशवो ना पईठवला | ये निरमोही सइया नैना लोरवो ना रुकात | सड़ियो ना भेजला रज़इयो ना भेजला अबले | कापेला देहीया मोर अकेले जड़वा बिताई कबले | ये निरमोही सइया तोहरो सुरतिओ ना भुलात | धनवा कटाई गइले गेंहुया बोआई कइसे | खाद पानी लाई कईसे होई सिचाई कईसे... »

भोजपुरी देवी पचरा गीत (कहरवा धुन) – रीझेली भवानी |

भोजपुरी देवी पचरा गीत (कहरवा धुन) – रीझेली भवानी | लाल लाल अड़हुल फुलवा टहकत डार | ओहि फुलवा रीझेली भवानी | अड़हुलवा सजल काली दरबार | ओहि फुलवा रीझेली भवानी | हथवा कटार माई चमचम चमकेला| गरवा बीच हार माई महमह महकेला | सिरवा ओढ़ेली भवानी ललका ओहार | ओहि फुलवा रीझेली भवानी | फुलवा लवंगीया माई के आहार हो | झुमत झामत आवा घरवा हमार हो | गिरले चरनिया भगता करा उपकार | ओहि फुलवा रीझेली भवानी | गिरि चरनिया रोई... »

भोजपुरी प्रेम गीत – तू बुझ लेतु ना |

भोजपुरी प्रेम गीत – तू बुझ लेतु ना | हमरो मनवा तू बुझ लेतू ना | दिलवा के भाव जान समझ लेतु ना | कईली तोहसे प्यार यार कइसे बताई | बताई केतना बतिया केतना ना बताई | गोरी बनिके चम्पा महक लेतू ना | हमरो मनवा तू बुझ लेतू ना | चढ़ल बा मनवा तोहरे प्यार के शरूर बा | छोडब ना तोहके तोहे पावे के जरूर बा | प्यार के नसवा तनी बहक लेतु ना | हमरो मनवा तू बुझ लेतू ना | चुनरिया सम्हारा उड़ावेला पवनवा | नजरिया के बान मु... »

ओज कविता- शिकार किया करते है |

ओज कविता- शिकार किया करते है | पीठ पीछे से वार सदा सियार किया करते है | हिन्द के जवान मुंह सदा हुंकार किया करते है | नापाक दुशमनों तुम हमे क्या आजमाओगे | सामने आओ हम शेर शिकार किया करते है | चूपके से घुस आए हमारी सीमा बोलो तुम | मुक्का कमर तोड़ बैरी चित्कार किया करते है | बढ़ाकर हाथ दोस्ती पीठ पीछे खंजर वालो | अहिंसा पुजारी हिन्द होशियार किया करते है | दिखा पटाखा एटम बम की धमकी न देना तुम | चौड़ी छात... »

भोजपुरी देश भक्ति गीत- भारत महान हो |

भोजपुरी देश भक्ति गीत- भारत महान हो | हमरा हउवे जेकरा पर गुमान हो | उ त हउवे हमरो भारत महान हो | लोहा माने जेकरा दुनिया जहान हो | उ त हउवे हमरो भारत महान हो | जनवा से बढ़िके के माने सब अपने देशवा | भिन्न भिन्न जाती हउवे भिन्न बाटे भेषवा | सिमवा पर डंटल हरदम हमरो जवान हो | उ त हउवे हमरो भारत महान हो | ऊंचा रे गगन फहरे मगन मोर तिरंगवा | मारी के भगाई दिहले गोर फिरंगवा | जनवा गवाई हमहु आपन हिंदुस्तान ह... »

भोजपुरी गीत- गुलजार गोरिया |

भोजपुरी गीत- गुलजार गोरिया | कइलु काहे हमसे तू प्यार गोरीया | दगा देके काहे भइलू तू फरार गोरिया | प्यार वाली बतियातू हमसे काहे कइलू | दिल मे समाके काहे हमके भूल गइलू | हमके बनवलु काहे तू दिलदार गोरीया | दगा देके काहे भइलू तू फरार गोरिया | रूपवा के रोशनी तोहरो हमहु नहईली | अँचरा के चाँदनी हम सबके भुलइली | मह मह महके गंध तोहार गोरिया | दगा देके काहे भइलू तू फरार गोरिया | हँसेलू त लगे जैसे मोती झर जइ... »

गजल- सोचा न था |

गजल- सोचा न था | ठुकरा देगा मुझे इस तरह कभी सोचा न था | दगा देगा मुझे इस तरह कभी सोचा न था | खुद से भी जियादा एतवार था मुझे उसपर | दफा कह देगा इस तरह कभी सोचा न था | हुश्न वाले पत्थर दिल होते कहते है लोग | दिल तोड़ देगा इस तरह कभी सोचा न था | दुनिया दिल बसाएँगे साथ थी तमन्ना मेरी | घर जला देगा इस तरह कभी सोचा न था | निगाहों मे प्यार होठो मुस्कान एक धोखा था | रुला देगा मुझे इस तरह कभी सोचा न था | मे... »

गज़ल -वो ठहरता नही है |

गज़ल -वो ठहरता नही है | बातो मे करता प्यार मगर दिल से वो करता नहीं है | वादे लाखो किए मगर जरूरत पर वो ठहरता नहीं है | बुला पास मुझे करना गैरो कहकसा उसकी आदत है | बदल गया मै उसकी खातिर मगर वो सुधरता नहीं है | उसके इश्क का असर इंतजार जाग रात भर करता हूँ | हर गली उसका जाना पास मगर वो फटकता नहीं है | जब भी आया वो पास मेरे हर घड़ी घड़ी देखता रहा | सुना दूँ अपने दिल की मगर मेरी वो सुनता नहीं है | करता करम ... »

भोजपुरी छठ गीत 9 – चला धीरे धीरे

भोजपुरी छठ गीत 9 – चला धीरे धीरे सइयाँ दउरा लेके छठी घाट चला धीरे धीरे | डूबते सुरुजमल अरघिया चढाइब तीरे तीरे | खुश होइहे छठी मईया किरीपा खूब करीहे | पूरा करीहे मनसा हमरो अँचरा भरी दिहे | सुपवा सजवली संगवा हमरे चला भिरे भिरे | सइयाँ दउरा लेके छठी घाट चला धीरे धीरे | नदिया किनरवा घाट आज मेला खूब लागी | धूप दिया नारियर केरा लेला तनी आगी | छठी मईया मनाइब बहाई नैना नीरे निरे | सइयाँ दउरा लेके छठ... »

भोजपुरी छठ गीत 6 – छठ करे कैसे घरे जाई |

भोजपुरी छठ गीत 6 – छठ करे कईसे घरे जाई | लागल सिमवा पर लड़ाई छठ करे कैसे घरे जाई | दौरा छठ घाट के पहुंचाई छठ माई करा कुछ उपाई | छठ करे कैसे घरे जाई | के हो लियाई गेंहुआ के जाई पीसना पिसाई | केरवा के घनिया उखिया डलिया कईसे आई | छठ करे कैसे घरे जाई | पापी पाकिसतनवा बेरी बेरी गोलवा चलावेला | बदला लेवे बीना हमरो खूब मनवा सतावेला | आई छठ मईया होखा मोर सिमवा सहाई | छठ करे कैसे घरे जाई | मारी दुशमनवा घरे ... »

श्रीराम भजन – प्रभु श्रीराम आएंगे|

श्रीराम भजन – प्रभु श्रीराम आएंगे| जला लो हर घर मे दिया आज श्रीराम आएंगे| काट बनवास संग सीता आज भगवान आएंगे | किया बद्ध दैत्यो का मानव उद्धार किया | खाकर जूठा बैर सबरी संदेश संसार दिया | चढ़ बीमान पुष्पक मार्ग वो आसमान आएंगे | जला लो हर घर मे दिया आज श्रीराम आएंगे| मनाओ सब दिवाली घर भी सजालो अपना | जगमग हर गाँव शहर द्वार लिपालो अपना | सजाओ फूलो से अयोध्या देव मेहमान आएंगे| जला लो हर घर मे दिया आज श... »

भोजपुरी सरस्वती वंदना – मईया दया कईदा |

भोजपुरी सरस्वती वंदना – मईया दया कईदा | रात दिन मईया तोहरे नामवा के जापी , हमपे दया कइदा | तनी देतु दर्शनवा मईया दया कइदा | रात न चयन पड़े दिन ना चयनवा | तोहरे के देखे खातिर तरसे नयनवा | अबोध बलकवा हमके गोदिया मे राखी | हमपे दया कइदा | तनी देतु दर्शनवा मईया दया कइदा | बिदद्या के देवी माई देलु सबके ज्ञान हो | बुद्धि लरकाई माई हम हई नादान हो | अज्ञानी अनाड़ी हमहु कही बात सांची | हमपे दया कइदा | तनी दे... »

कविता- उजाला घर मे हो |

कविता- उजाला घर मे हो | मन मे जले दीप उजाला हर घर मे हो | अंधेरा न कही जगमग हर शहर मे हो | चमके ललाट राष्ट्र रहे चमक तिरंगे की | सीमा बम धमाका कोई थोड़ा उधर मे हो | बच्चो के हाथ फुलझड़िया तन नए कपड़े | ऊंचे मकानो दिये रौनक थोड़ी इधर मे हो | जले दिये घर सबके मकान टूटा ही सही | खुशियो की चमक अब सबके नजर मे हो | कच्चा या पक्का घर रंगोली सजेगी सबके | मने दिवाली हिन्द लक्ष्मी हर बसर मे हो | आओ मिल जलाए दिय... »

भोजपुरी कविता- बचावल ना गइल |

भोजपुरी कविता- बचावल ना गइल | होत रहे ज़ोर सरेआम अबला केहु मान बचावल ना गइल | ले लिहस कातिल जान केहु पानी आँख बहावल ना गइल | जात धरम देख करे राजनित, ई केवन नित चले लागल | मर्यादा हिन्दी मुस्लिम एक समान , केहु ज्ञान बतावल ना गइल | मजहब पसंद के चाही , छिंक आई त हो हल्ला मचावे लगिहे | आपन सरकार सजात गइल इज्जत , केहु धरना लगावल ना गइल | मुजरिम गैर जात उनका मूह ना खुली | केवनों अबला जानो इज्जत चल जाय , ... »

भोजपुरी गजल – जिनगी अब जहर भइल |

भोजपुरी गजल – जिनगी अब जहर भइल | तोहसे प्यार भइल घाव अब कहर भइल | खा के धोखा आशिक एहर ना ओहर भइल| रूप के चाँदनी मे प्यार के आसरा खोजली | रूप मिलल ना चान इश्क बे डहर भइल | मासूम चेहरा मे दिल पत्थर कइसे होला | बेवफा के दगा जिनगी अब जहर भइल | प्यार कइल केवन कसूर बा बतावा केहु | टुटल दिल हमार प्यार अब बे कदर भइल| दिल तोड़ही के रहे सपना देखवलू काहे | ठुकरा दिहलु हमके तमासा शहर भइल | कीमत आशिक पत्थ... »

भोजपुरी देवी पचरा गीत- खपरवा के धार |

भोजपुरी देवी पचरा गीत- खपरवा के धार | काली मईया करबे ना हो पूजनवा तोहार | तोहके देइब हम खपरवा के धार | काली बा सुरतीया बाकी बाडु तू दयालु | रुपवा भयावह माई कमवा कृपालु | लेई ला पूजनवा ना हो करा मोर उद्धार | तोहके देइब हम खपरवा के धार | लाली लाली जीभिया लंबी काली केसिया | मथवा पर बिंदिया सोहे बड़ी बड़ी अँखिया | जग कल्यानी मईया खोला ना हो केवाड़ | तोहके देइब हम खपरवा के धार | रक्त बीज खुनवा माई खप्पर म... »

भोजपुरी देवी पचरा गीत- आपन तू पूजनवा |

भोजपुरी देवी पचरा गीत- आपन तू पूजनवा | लेला लेला ये मईया आके आपन तू पूजनवा | शेरवा सवार होके देवी लेला तू असनवा | लेला लेला ये मईया आके आपन तू पूजनवा | सोनवा के दीयना माई सोनवा के थरिया | गईया के घिउया माई दरसन देबू कहिया | होला जय जय कार तोहरो सगरो जमनवा | लेला लेला ये मईया आके आपन तू पूजनवा | सोनवा के रथवा सोना कंगना माई हथवा | सोनवा कटार लाली बिंदिया माई मथवा | रोई चरनिया गिरे माई तोहरे भारती ल... »

भोजपुरी देवी गीत-चला माई के दुअरिया |

भोजपुरी देवी गीत-चला माई के दुअरिया | मोर करेजउ हो चली चला माई के दुअरिया | लाल अड़हुलवा सेनूर चढ़ईहा ललकी चुनरिया | मोर करेजउ हो चली चला माई के दुअरिया | नव दिन नव रूप मे दुर्गा माई आवेली | शैलपुत्री ब्रम्हचारिणी चंद्रघंटा उ कहावेली | कुस्मांडा स्कंधमाई कार्तिकायिनी डलिहे नजरिया | मोर करेजउ हो चली चला माई के दुअरिया | सातवाँ रूप कालरात्रि आठवाँ महागौरी रूप हो | नौवा सिद्धिदात्री चढ़ावा दिया बाती धूप... »

हिन्दी देवी गीत – भक्ति दान दे दो |

हिन्दी देवी गीत – भक्ति दान दे दो | हे प्रमेशवरी हे दुर्गेशवरी भक्ति दान दे दो | काली कपालिनी दैत्य दलिनी शक्ति दान दे दो | जगत जननी माँ अम्बे जगदम्बे तुम हो | दुख हरनी सुख करनी माँ अम्बे तुम हो | हे प्रकाशीनी आनंद करनी मुक्ति दान दे दो | हे प्रमेशवरी हे दुर्गेशवरी भक्ति दान दे दो | माँ शारदा कालिका कमला तेरा ही रूप है | वैषणों बिंध्यवाशिनी काम रूप अद्द्भुत है | हे माँ छिन्नमस्तिका मुझे रक्षित दान... »

कविता- प्रेम रस – दिल मे रहता हूँ |

कविता- प्रेम रस – दिल मे रहता हूँ | दुनिया के दुखो से तुम्हें कही दूर लिए चलता हूँ | आओ प्रिये हर नजर के असर दूर किए चलता हूँ | चाँदनी रात है खुला आसमान ठंडी हवा बह रही | सितारो की महफिल मिल जाओ फिजाँ कह रही | हर तरफ शांती सकुन खुशबू रात रानी महकी है | बना लो सेज नर्म हरी घास जुलफ़े तेरी बहकी है | उतर आया चाँद गोद मेरी दावे से मै कहता हूँ | भूल जाओ गम सारे आओ आज दूरिया मिटा दो | समा लो मुझे ज... »

भोजपुरी देवी गीत (धोबी गीत ) – होई माई के नजरिया |

भोजपुरी देवी गीत (धोबी गीत ) – होई माई के नजरिया | मुंहवा काहे फुलवलु गोरी चला मेला के डहरिया | हम घुमाइब तोहके ना झारखंड बोकारो के शहरिया | हम घुमाइब तोहके ना झारखंड बोकारो के शहरिया | सड़िया ले अइली तोहके काजर टिकुली ले अइली | अलता पावडर संगवा तोहके चानी पायल ले अइली | ले अइली तोहके ना रानी चम चम चमके चदरिया | हम ले अइली तोहके ना | हम घुमाइब तोहके ना झारखंड बोकारो के शहरिया | लागल लोक डाउन गोरी अ... »

भोजपूरी देवी गीत- देवी के चरण मे |

भोजपूरी देवी गीत- देवी के चरण मे | चला पिया चली जा बाजार होखेला पूजा नवरातन मे | कीनिहा माई के सिंगार चढ़ईहा देवी के चरण मे | नौ दिन पिया तू उपवास बरत करिहा | नौ रूप माई के दरसन खूब करिहा | ओढ़ईहा चुनरी ओहार पिया माई के चरण मे | कीनिहा माई के सिंगार चढ़ईहा देवी के चरण मे | शेरवा सवार माई खूब लहरत अइहे | खुश होइहे देवी तोहके खूब वर दिहे | भगतन बदे लिहली दुर्गा अवतार चला माई के शरण मे | कीनिहा माई के स... »

भोजपुरी देवी पचरा गीत- करा तू अंजोर |

भोजपुरी देवी पचरा गीत- करा तू अंजोर | अब नाही अइबु त कब माई अइबु , बलकवा रोवे बड़ी ज़ोर | भारती पुकारे ले अवतू ये काली माई | जीनिगिया मे करा तू अंजोर | सुनीला पुकार तू हमरो ये काली माई | रहिया ना लउके केवनो ओर | एक वर दिहा दूसर वर दिहा , तीसरे उद्धार करा माई मोर | भारती पुकारे ले अवतू ये काली माई | जीनिगिया मे करा तू अंजोर | चंड मुंड मरलु तू रक्तबीज मरलु , महिषा सुर के कइलु संघार | दुखवा हमार कब टलब... »

भोजपुरी कविता- राजनीति होखे के चाही |

भोजपुरी कविता- राजनीति होखे के चाही | केहु मरे चाहे जिये राजनीति होखे के चाही | केहु आबरू लूट जाये राजनीति होखे के चाही | औरत ना ई खिलौना हई जब चाहे खेल ला | जान ना जाए केहु मऊत के मुंह धकेल दा | इनकर इज्जत जाये राजनीति होखे के चाही | बेटी भईली का भइल कुल क मर्यादा बाड़ी | माई बाप क दुलार पूचकार उ जयादा बाड़ी | नाम नीलाम हो जाये राजनीति होखे के चाही | समाज आज कहा से कहा आ गईल भईया | देवी जस नारी दुश... »

कविता- शास्त्री गांधी से सीख लो |

कविता- शास्त्री गांधी से सीख लो | लड़ा जाता कैसे जंगे आजादी गांधी से सीख लो | सत्य अहिंसा की कैसी आजादी गांधी से सीख लो | छोड़ धन दौलत रूप संत का बना लिया उसने | कैसे हो बुलंद हौसला सबका गांधी से सीख लो | साबरमती का संत कपड़ा सूत चरखा चलाया | राम रहीम एक है गाया कैसे गांधी से सीख लो | जाड़ा धूप गरमी सब पहन धोती सहता रहा | लड़ा कैसे अंग्रेज़ो एक संत गांधी से सीख लो | अवतरित हुये आज सादगी के प्रतीक शास्त्... »

भोजपुरी गजल- जब बसर होला |

भोजपुरी गजल- जब बसर होला | केहु के नेह मे देह के ना खबर होला | प्रेम के रोग ह ई बड़ा जहर होला | केतनों समझावे केहु कबों ना मानेला | बहक जाला कदम अइसन ई डहर होला | प्यार तोहसे ना करी ई का कहलू तू | चाहे करा रुसवा तनको ना असर होला | दिहला काहे दिल तू बोला ये बिधाता | निकसे ना केहु दिल जब उ ठहर जाला | मिले प्यार मे धोखा ई का जरूरी बा | खा के ठोकर भी ना केहु सुधहर जाला | बनल दुशमन जमाना राह मोहब्बत मे ... »

साई भजन – तुही तू है |

साई भजन – तुही तू है | साई तेरी दुआ से दुनिया मे रोशनी है | गर कर दे तू करम यहा कुछ नहीं कमी है | तेरी रहमतों से कायम ये दुनिया जहा है | जिधर भी देखो हर तरफ नूर तेरा वहा है| साई बाबा हर तरफ तुही तू है | गर तू न होता बाबा कुछ भी न होता | तेरे मुरीदों को क्या क्या न हस्र होता | साई बाबा हर तरफ तुही तू है | डाल दे तू नजर जिधर उधर कमाल हो जाये | अन्धो को आंखे गूंगे की बोली धमाल हो जाये | साई बाब... »

भोजपुरी ग़ज़ल -का कसूर बा

भोजपुरी गजल – का कसूर बा | आँख से बहल आँसू तू पानी कहा सब मंजूर बा | बहल काहे ई पानी बतावा हमार का कसूर बा | कईल तोहसे प्यार का ई गुनाह हो गईल बोला | तोड़ दिहलु दिल हमार धंसल करेजा नासूर बा | सोचली सजाइब प्यार के दुनिया तोहरे संग हम | तोड़ के सपना चल दिहलु कईल दगा जरूर बा | गड़े ना कबों काँटा पाँव दिल बिछवली आपन | कुचल दिहलु मोर करेजा तोहरे इश्क के शुरुर बा | मरम दिल बुझतु करम करतू ना तू कबों अइसन | ... »

मुक्तके – दौलत आखिरी |

मुक्तके – दौलत आखिरी | पाँच गज कफन दो गज जमीन दौलत आखिरी | लाखो करोड़ो की चाह हंगामा बदौलत आखिरी | आना जाना खाली हाथ लड़ाई किस बात की है | सब कुछ रह जाएगा यहा नाम सोहरत आखीरी | और कुछ नहीं सत्य शिव और सुंदर वही और कुछ नहीं | छंटा घटा जटा समंदर वही और कुछ नहीं | बाग बागीचा फूल भवरे झरने नदी सुंदर | गगन मगन जल पवन वही और कुछ नहीं | कुछ किया क्या | परारब्ध भोग लिया फिर न हो कुछ किया क्या | छूटे जनम मरण... »

गजभोजपुरी गीत- चुनरिया संभाला सजनी |ल

भोजपुरी गीत- चुनरिया संभाला सजनी | बरसेला बदरा झीर झीर चुनरिया संभाला सजनी | चिकन भुईया जइहा ना गिर उमरिया संभाला सजनी| रही रही चमकेले बदरा मे बिजुरिया | भरी भरी नजरा मे तरसेले गुजरिया | लौटी सइया अइहे ना फिर गगरिया संभाला सजनी | दुअरा पर ठाड़ गोरी निहारे ली डहरिया | कब अइहे निर्मोही मोर बाँके सवरिया | बहावे गोरी अँखिया नीर नजरिया जुड़ाला सजनी | सगरो गगनवा छाईल कारी बदरिया | पिया घरे नाही गोरी जिनगी... »

गजल

हर तरफ तेरे नजारे नजर आ रहे है | तेरे इश्क के इशारे नजर आ रहे है | हुश्न ऐसा चाँद फीका हुआ जाता है | अंधेरों हुश्न करारे नजर आ रहे है | आंखो शराब का सागर लहराता है | हुश्न इश्क किनारे नजर आ रहे है | तब्बशुम लबो गुलाबी जिगर पार है | बिखरी जुलफ़े कारे नजर आ रहे है | देख जलवा ए हुश्न ईमान खतरे मे है | ईमान वाला हम बेचारे नजर आ रहे है| तुमसे पहले कोई याद न बेकरारी थी | शामों शहर तेरे सहारे नजर आ रहे है... »

हिन्दी दिवस आज आया

हिन्दी दिवस की हार्दिक बधाई | कविता- हिन्दी दिवस आज आया | हिन्दी दिवस आज आया ,सरे हिन्द परचम लहराया | हर भाषा की सरताज है हिन्दी सबने झण्डा फहराया | भोजपुरी गुजराती मराठी बंगाली पंजाबी बहने सगी है | तमिल मलयालम आसामी उडिया उर्दू सजने लगी है | मिलकर बहने भाषाओ हिन्दी को सर माथे है लगाया | आज नहीं हर दिन हिन्दी दिवस मिल हम मनाएंगे | तद्भव तत्सम देशज बीदेशज शब्दो हिन्दी सजाएँगे | भारत ही नही बिदेशों ... »

कविता- ज्ञान दाता |

शिक्षक दिवस की हार्दिक बधाई | कविता- ज्ञान दाता | ज्ञान दाता विज्ञान दाता तुम ही हो | हे गुरु प्रकाश दाता मुक्ति दाता तुम ही हो | जीवन मे अंधेरा बहुत था तुमसे पहले| था घना कोहरा तुम्हारी दृस्टी से पहले | मूल्य कुछ भी न था मेरा संसार मे | खा रही थी हिचकोले नाव मजधार मे | देवता मेरे माता पिता तुम ही हो | उससे पहले माँ मेरी गुरु बन गई | मेरे अवगुण दूर करने की ठन गई| गिरना उठना चलना बोलना सिखा | कौन क... »

भोजपुरी बिरह गीत – करी केकेरा प सिंगार बलमु |

भोजपुरी बिरह गीत – करी केकेरा प सिंगार बलमु | कईला काहे हमसे अइसन तू प्यार बलमु | छोड़ी दिहला हमके तू मजधार बलमु | तोहरे बिना लउके हमके सगरो अनहरिया | अंसुवे मे डूबल जाता हमरो उमरिया | कइला काहे हमसे तू नैना चार बलमु | छोड़ी दिहला हमके तू मजधार बलमु | तन औरी मन राजा तोहके सब सउपली| मन के मंदिरवा तोहे देवता नियन पुजली | दगाबाज बनला काहे मोर दिलदार बलमु | छोड़ी दिहला हमके तू मजधार बलमु | गाँव के बगइचवा... »

भोजपुरी कविता – बाबू बालू खोट दिखाई |

भोजपुरी कविता – बाबू बालू खोट दिखाई | सागर मे मोती मिलेला डूबी जे उहे पाई | मेहनत क फल मीठा जे करी उहे खाई | राजनीति किचर होला गोड़ डाल के देखा | किचर कमल खिले सब मोदी ना बन पाई | पीठ पीछे करे बुराई मुहवा खियावे मिठाई | मुहवा बतियाई बुराई मइल सब धुली जाई | नौ मन ना तेल होई न राधा नचिहे कबों | मिताई चीन पाक भारत बाल न बांका होई | का बरसा जब कृषि सुखानी बात सयानी | पढे के बेरिया इंटा पाथे साहेब ना बन... »

Page 1 of 512345