भोजपुरी कविता

भोजपुरी पारंपरिक होली 6 -दिल्ली मे उड़ेला अबीर |

भोजपुरी पारंपरिक होली 6 -दिल्ली मे उड़ेला अबीर | दिल्ली मे उड़ेला अबीर ,सुना लोग | मोदी जी महनवा छप्पन इंची सिनवा | बदले देशवा के तकदीर | दिल्ली मे उड़ेला अबीर ,सुना लोग | जबसे ई भईले प्रधान मंत्री देशवा | आगे टीके नाही केवनों बलबीर | दिल्ली मे उड़ेला अबीर ,सुना लोग | जब जब ललकारे पापी पाकिस्तनवा | मारी देले ओकरा के शमशीर | दिल्ली मे उड़ेला अबीर ,सुना लोग | होला जय जयकार भारत के जमनवा | बांधी दीहले दुश... »

भोजपुरी पारंपरिक होली 5-भंगिया पिये ना जा |

भोजपुरी पारंपरिक होली 5-भंगिया पिये ना जा | भोला भंगिया पिये ना जा | कहे गौरा भोला भंगिया पिये ना जा | भोला भंगिया पिये ना जा | पीना जो होतो भोला लस्सी तू पिला | आके अबीर गुललवा लगा जा | भोला भंगिया पिये ना जा | खाना जो हो तो खीर पूड़ी तू खा जा | जहर धतुरवा ना खा | भोला भंगिया पिये ना जा | खेलना जो हो होरी गौरा संग खेला | गणेश कार्तिक के रंगवा तू दे दा लगा | भोला भंगिया पिये ना जा | लगाना हो समाधि ... »

भोजपुरी पारंपरिक होली 4-कान्हा संग होली

भोजपुरी पारंपरिक होली 4-कान्हा संग होली सखी खेलब ना कान्हा संग होरी | हरदम करे उ बलजोरी | जब हम जाई जमुना किनरवा | देले मोर मटकी के फोरी | सखी खेलब ना कान्हा संग होरी | जब हम जाई फूल लोढ़े बगिया | खींचे मोर अँचरा के कोरी | सखी खेलब ना कान्हा संग होरी | जब हम जाई यमुना के बिचवा | करे मोर सड़िया के चोरी | सखी खेलब ना कान्हा संग होरी | जब हम जाई ब्रिन्दा रे बनवा | बंसिया बजाई नचावे राधा गोरी | सखी खेलब... »

भोजपूरी लोकगीत (पूर्वी धुन ) – तोहरो संघतिया

भोजपूरी लोकगीत (पूर्वी धुन ) – तोहरो संघतिया याद आवे जब तोहरो संघतिया | करे मनवा तनवा के झकझोर | बिसरे नाही प्रेमवा के बतिया , बरसे मोरे नयनवा से लोर | याद आवे जब तोहरो संघतिया | कइके वादा हमके बिसरवला | तोड़ी नेहिया के बहिया छोडवला | सुनाई केतना हम आपन बिपत्तिया | मिले नाही हमके कही ठोर | याद आवे जब तोहरो संघतिया | तोड़े के रहे काहे दिलवा लगवला | सुघर काहे हमके सपना देखवला | साले हमके तोहार सावर सु... »

भोजपुरी गीत- काहे भुला गइलू |

भोजपुरी गीत- काहे भुला गइलू | दिलवा लगाके काहे भुला गइलू | भईल केवन कसूर काहे कोहा गइलू | तोड़ दिहलु दिलवा काँच के टुकड़ा जईसन | लगे सुरतिया टोहार चाँद के मुखड़ा वईसन | छोड़ी हमके काहे रुला दिहलु | दिलवा लगाके काहे भुला गइलू | पवन झंकोरा उड़े केसिया बड़ा निक लागे | चमचम चमके लाल बिंदिया बड़ा निक लागे | कोमल दिलवा ठोकर लगा गइलू | दिलवा लगाके काहे भुला गइलू | आवा तोहे दिलवा के रानी हम बनाइब | प्रेमवा के गि... »

भोजपुरी लोकगीत (पूर्वी ) – सालेला ये राम |

भोजपुरी लोकगीत (पूर्वी ) – सालेला ये राम | अब ना सहब ये मोदी जी , देश बिरोधी घतिया ,दुशमन के बोलीया , लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया | अस मन करे उनके देशवा भगवती , सविधनवा के बतिया याद आवेला ये राम | लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया | होते यदि दुश्मन बहरिया , उनके गोलिया चलवती ,देशवा के लोगवा सालेला ये राम दुशमन के बोलिया | लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया | जाये के पड़ी एक दिन सिमवा के ओरिया। मनवा जहि... »

जड़वा में रतिया

भोजपुरी गीत- जड़वा मे रतिया | कटले कटात नईखे जड़वा मे रतिया | गरिबिया मे जड़वा के अइली बिपत्तिया | सईया सांगवा रहते त रजईया लीवते | सांगवा लइकन अपने कोरवा सुतवते | साले अहमे अपने सइया के सुरतिया | कटले कटात नईखे जड़वा मे रतिया | सर सर पवनवा बदनवा कपावेला | जड़वा मे रतिया हमके नींदियों ना आवेला | केकरा कही हम आपन दिलवा के बतिया | कटले कटात नईखे जड़वा मे रतिया | टुटल मड़ईया हमरो चरपइयो बाड़ी टुटल | केवन सौत... »

माया में लोभाई

भोजपुरी निर्गुण – माया मे लोभाई | नईहर के छोड़ी आइलू ससुरा के घर मे | माया लोभाई भुलइलू आपन सजन ये राम | झूठ साँच बोली पपवा बसवलु अपना मन मे | सोन पिंजरवा छोड़ी सुगना उड़ी जईहे गगन ये राम | माया लोभाई भुलइलू आपन सजन ये राम | पियावा के छोड़ी नेहिया लगवलु देवर ये राम | जनिहे जे भेदवा सजना निकली न मूहवा बचन ये राम | कईलु ना दान धरमवा जिनगी फसवलु भवर ये राम | माया लोभाई भुलइलू आपन सजन ये राम | जाई ससुरवा ... »

पुर्वी लोक गीत चले ठंडी बयरिया ये सजनी

भोजपुरी पूर्वी लोकगीत – चले ठंडी बयरिया ये सजनी | मुखड़ा – चले ठंडी बयरिया ये सजनी , कांपेला बंदनवा मोर | जल्दी से भरीला अंकवरिया लागेला जड़वा बड़ी ज़ोर | चले ठंडी बयरिया ये सजनी , कांपेला बंदनवा मोर | अंतरा 1 – सुना मोर अँखियाँ के पुतरी , भईले प्यार तोहसे मोर | बिना तोहरे तरसे नजरिया , उठेला कर्जवा मे हिलोर | चले ठंडी बयरिया ये सजनी , कांपेला बंदनवा मोर | अंतरा 2 -पतरी कमरिया अँखिया बाड़ी ... »

जान तोहरी याद में

भोजपुरी गीत- जान तोहरी याद मे | जान तोहरी याद मे हमरो रहल दुश्वार बा | तोहरे बिना गोरी हमरो जियल बेकार बा | नैना लड़ाई हमसे चैना छिन लिहलु | हमके रोवाई हमरो रैना छिन लिहलु | गोरी तोहरे याद मे भुलली दिन अतवार बा | जान तोहरी याद मे हमरो रहल दुश्वार बा | दिल के मंदिरवा तोहे देवी बनवली | सपना मे रानी महलिया रची बनवली | दिलवा जनी तोड़ा तोहार नैना खतावार बा | जान तोहरी याद मे हमरो रहल दुश्वार बा | गाँव के... »

Page 1 of 3123