Ramesh dhorawat's Posts

थकान

●थकान  ̄ ̄ ̄ ̄ किसान के पास फ़सल की बोरियां भरते वक्त बोरियां भर थकान भी होती है…. लेकिन वह नहीं भरता थकान की बोरियां…. क्योंकि- वह जानता है थकान खरीद सके उतना दम नहीं फ़सल खरीदने वालों में…! (रमेश धोरावत) ••••••••••••••• »