चंद पैसों की खातिर!

ले देकर कुछ यादें हैं मेरे पास
जो दिल की तिजोरी में
संभाल के रखीं हैं
गरीबी जब आयी करीब मेरे
तो लोगों ने हिदायत दी
कि कर लूं सौदा
कुछ यादों का
चंद पैसों की खातिर!


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

खिलौना मत बनाना

*अहोई-अष्टमी के तारे*

देश में कुछ ऐसा बदलाव होना चाहिए

*सूर्य-देव का रथ आया*

8 Comments

  1. Geeta kumari - September 29, 2020, 11:04 am

    ” लोगों ने हिदायत दी, कर लूं सौदा कुछ यादों का”
    वाह वसुंधरा जी बहुत ही भावुक रचना

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - September 29, 2020, 1:11 pm

    अतिसुंदर

  3. मोहन सिंह मानुष - September 29, 2020, 1:17 pm

    बहुत ही उम्दा
    लेखनी

  4. प्रतिमा चौधरी - September 29, 2020, 10:44 pm

    बहुत ही लाजवाब

Leave a Reply