“एक ख्वाब जिया है मैंने”

किस्मत को आजमाकर
एक ख्वाब जिया है मैंने
आँसुओं को शराब- सा पिया है मैंने,
यहाँ से दूर चला जाऊंगा मैं
ये फैसला अब किया है मैंने…


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

6 Comments

  1. Geeta kumari - December 20, 2020, 4:30 pm

    बहुत खूब

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 20, 2020, 5:59 pm

    अतिसुंदर

  3. Praduman Amit - December 20, 2020, 7:21 pm

    तकदीर से बच जाए ज़माने में किसका मजाल है।

Leave a Reply