तेरे साये में बस हमे रहना है

नजरो से तुम क्या बयां करते हो
करीब आ कर कहो जो कहना है
हँसी नजारे न सही, अंधेरा ही सही
तेरे साये में बस हमे रहना है

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

H!

10 Comments

  1. महेश गुप्ता जौनपुरी - September 8, 2019, 7:26 pm

    वाह बहुत सुंदर

  2. Kanchan Dwivedi - September 8, 2019, 8:32 pm

    Good one

  3. देवेश साखरे 'देव' - September 8, 2019, 8:34 pm

    वाह

  4. Poonam singh - September 8, 2019, 11:02 pm

    Nice

  5. ashmita - September 9, 2019, 11:06 pm

    Thanks

  6. ashmita - September 9, 2019, 11:06 pm

    Thank you

  7. NIMISHA SINGHAL - September 10, 2019, 9:10 am

    नजदीक आके कहो…

  8. DV - September 12, 2019, 6:09 pm

    बहुत सुंदर लिखा है …

Leave a Reply