दादी माँ

दादी माँ

दादी पोते के बीच का रिश्ता बहुत अजीब देखा है,

किस्से कहानियों का भी रूप मैने सजीव देखा है,

सफेद बाल मुलायम खाल का स्पर्श सच्ची याद है मुझे,

बिन दाँतों वाली दादी को मैने भी अपने करीब देखा है।।

राही (अंजाना)


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

पिता

माँ

माँ

माँ

माँ

11 Comments

  1. Antariksha Saha - July 26, 2018, 11:46 pm

    awesome bhai keep it going

  2. ज्योति कुमार - July 27, 2018, 1:17 pm

    Waah nice

  3. Neha - July 28, 2018, 10:51 am

    Osm

  4. Kanchan Dwivedi - March 8, 2020, 5:43 pm

    Very nice

  5. Satish Pandey - July 31, 2020, 10:07 am

    वाह वाह

  6. मोहन सिंह मानुष - August 22, 2020, 10:57 pm

    बहुत ही उम्दा

  7. प्रतिमा चौधरी - September 8, 2020, 2:12 pm

    अति उत्तम

  8. प्रतिमा चौधरी - September 8, 2020, 2:13 pm

    बहुत खूब बहुत अच्छा।

Leave a Reply