मकर संक्रांति

काली रात बीत गई, नई सुबह आई है |
शुभ हुआ अशुभ पर भारी मंगल बेला आई है |
पौष माह की सर्द रातों का चंद्रमा, अब माघ माह में आया है |
सूर्य ने भी करवट बदली मकर संक्रांति की बेला पर, उत्तर दिशा की ओर निकला आज अपना तेज लेकर है |


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

2 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - January 14, 2021, 8:13 am

    अतिसुंदर रचना
    मकर संक्रांति की बधाईयाँ

    • Geeta kumari - January 14, 2021, 11:40 am

      मकर संक्रान्ति पर्व पर बहुत सुंदर कविता, संक्रांति पर्व की बधाई

Leave a Reply