Related Articles

दोस्ती

चलो थोडा दिल हल्का करें कुछ गलतियां माफ़ कर आगे बढें बरसों लग गए यहाँ तक आने में इस रिश्ते को यूं ही न ज़ाया…

भुला न पाओगे

भुला के देख लो चुनौतियां हैं तुम्हें, न भुला पाओगे, करोगे याद, अच्छाई से या बुराई से, मगर भुला न पाओगे। करोगे याद नफरत से…

रिश्ते

जिन्हें हम याद करना नहीं चाहते उन्हे ही भुला नहीं पाते जो पल भूल गए हैं उनका अहसास भुला नहीं पाते၊ आँसू जो अब तक…

Responses

  1. क्या बात है बहुत ही सुंदर बात कही है आपने जय हिंद जय भारत

New Report

Close