श्याम छवि

शीश जटा एक बेणी लटकत
लटकत लट लटकन मुखचंद्र पे वारिद ऐसे
लुकछिप खेल करत हो जैसे।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

6 Comments

  1. Abhishek kumar - November 24, 2019, 11:46 am

    अनुप्राश अलंकार

  2. Ashmita Sinha - November 24, 2019, 3:35 pm

    Nice

  3. nitu kandera - November 24, 2019, 3:55 pm

    Good

  4. देवेश साखरे 'देव' - November 24, 2019, 4:33 pm

    सुन्दर

  5. nitu kandera - November 26, 2019, 8:11 am

    Wah

Leave a Reply