तेरा मेरे लिए होना

तेरा मेरे लिए होना,
उतना जरूरी,
जितना जरूरी ,
ज़हान को हवा पानी है,
तू अंजाम है,
मेरे इश्क का ,
तू सुकून है ,
मेरी बैचेनी का,
कम शब्द में कहुं तो
दिल की हसरतें,
तेरी दीवानी है
सांसों के बिना,
कोई कैसे रहे
तू मेरे हाले-दिल की,
कहानी है
तेरा मेरे लिए होना
उतना जरूरी
जितना जरूरी
ज़हान को हवा पानी है
हंसी हो, खुशी हो,
गम हो या दर्द की झड़ी हो
वक्त की बदहाली में भी ,
तेरी मौजूदगी से ,
मौज-ए-रवानी है
तेरा मेरे लिए होना
उतना जरूरी
जितना जरूरी
ज़हान को हवा पानी है
फर्क नहीं पड़ता
लोगों की चुगलियों का,
तानों का,
बहानों का,
मेरे होठों की थरथराहट की ,
तू ही महज़ जुबानी है
तेरा मेरे लिए होना
उतना जरूरी
जितना जरूरी
ज़हान को हवा पानी है
Specially for my wife….


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

मुस्कुराना

वह बेटी बन कर आई है

चिंता से चिता तक

उदास खिलौना : बाल कबिता

6 Comments

  1. Suman Kumari - October 27, 2020, 1:33 am

    बहुत ही सुन्दर अभिव्यक्ति

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - October 27, 2020, 1:20 pm

    अतिसुंदर

  3. प्रतिमा चौधरी - October 28, 2020, 2:09 pm

    बहुत ही लाजवाब

Leave a Reply