*दिनकर आए हैं कई दिनों के बाद*

दिनकर आए हैं कई दिनों के बाद,
विटामिन डी ले लो।
बांट रहे हैं मुफ्त में सौगात,
विटामिन डी ले लो।
बातें करो धूप संग कुछ देर बैठ कर,
किरणों को बैठाओ देकर आसन
दिनकर होंगे बहुत प्रसन्न,
विटामिन डी ले लो।
दिनकर आए हैं कई दिनों के बाद,
विटामिन डी ले लो।
अकड़ा सा बदन खुल जाएगा,
सर्दी में थोड़ा ताप मिल जाएगा,
आज है दिवस सुनहरा,
विटामिन डी ले लो।
दिनकर आए हैं कई दिनों के बाद,
विटामिन डी ले लो।
पवन भी मंद-मंद है, छुट्टी पर है कोहरा
है अवसर सुनहरा,
विटामिन डी ले लो।
दिनकर आए हैं कई दिनों के बाद,
विटामिन डी ले लो।
_____✍️गीता


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

मुस्कुराना

वह बेटी बन कर आई है

चिंता से चिता तक

उदास खिलौना : बाल कबिता

6 Comments

  1. Rishi Kumar - January 19, 2021, 5:48 pm

    विटामिन डी ले लो
    अति सुंदर रचना

  2. Satish Pandey - January 19, 2021, 10:36 pm

    अकड़ा सा बदन खुल जाएगा,
    सर्दी में थोड़ा ताप मिल जाएगा,
    आज है दिवस सुनहरा,
    विटामिन डी ले लो।
    ——– शिक्षिका कवि गीता जी की बहुत सुंदर सलाह और बेहतरीन अभिव्यक्ति।

  3. Geeta kumari - January 20, 2021, 8:31 am

    समीक्षा हेतु आभार सतीश जी, हार्दिक धन्यवाद 🙏🙏

  4. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - January 20, 2021, 11:22 am

    बहुत खूब

Leave a Reply