भोजपुरी लोकगीत (पूर्वी ) – सालेला ये राम |

भोजपुरी लोकगीत (पूर्वी ) – सालेला ये राम |
अब ना सहब ये मोदी जी ,
देश बिरोधी घतिया ,दुशमन के बोलीया ,
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
अस मन करे उनके देशवा भगवती ,
सविधनवा के बतिया याद आवेला ये राम |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
होते यदि दुश्मन बहरिया ,
उनके गोलिया चलवती ,देशवा के लोगवा
सालेला ये राम दुशमन के बोलिया |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
जाये के पड़ी एक दिन सिमवा के ओरिया।
मनवा जहिया ले बांधेला ये राम |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
दंगा करावे रोज धरना लगावे खूब |
बांटेला ये राम देश धरमवा जतिया |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
केतनों लगइहे अगिया, जरी नाही देशवा कहियो |
भावेला ये राम सबके मोदी के बतिया |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |
मिली जुली रहिहे लोगवा, चलिहे नाही केवनों जोतवा |
भगावेला ये राम मोदी जी देशवा बिपतिया |
लागेला ये राम ,दुशमन के बोलिया |

श्याम कुँवर भारती [राजभर] कवि ,लेखक ,गीतकार ,समाजसेवी ,

मोब /वाहत्सप्प्स -9955509286


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

6 Comments

  1. NIMISHA SINGHAL - January 19, 2020, 1:40 am

    वाह!

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - January 19, 2020, 8:00 am

    Nice

  3. Pragya Shukla - January 19, 2020, 9:34 am

    Good

  4. Priya Choudhary - January 19, 2020, 9:53 am

    Good

  5. Kanchan Dwivedi - January 19, 2020, 10:56 am

    Good

  6. Abhishek kumar - January 19, 2020, 12:18 pm

    Good

Leave a Reply