मैं कवि हूँ

मैं कवि हूँ, मैं फौलाद नहीं,
सच कहता हूं, सच बात यही।
जो सच से डरते हैं केवल
कुढ़ते हैं वे सच बात यही।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. vivek singhal - August 5, 2020, 9:23 am

    Waah

  2. Geeta kumari - August 5, 2020, 9:33 am

    बहुत सुंदर

  3. विकास कुमार - August 5, 2020, 9:39 am

    great

  4. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - August 5, 2020, 6:34 pm

    Wah

  5. Kumar Piyush - August 13, 2020, 5:23 pm

    waah waah

Leave a Reply