क्या बदलना

मंच भी बदल जायेंगे,किरदार भी बदल जायेंगे, 

वक्त के साथ चलते रहो,मंजर भी बदल जायेंगे। 

हमेशा अपनी हिम्मत और हुनर पर भरोसा रखना, 

जो ठीक लगे दिल को वही काम जूनून से करना। 

हाथ की लकीरें का क्या?बनती है और बिगड़ जाती है, 

कर्म हो अच्छे तो भाग्य भी खुद ही सुधर जाती है। 

बेफिक्र होकर हमेशा बुलंदियों पर निगाह रखना, 

उठ गये जो कदम तो अब पीछे क्या हटना।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

14 Comments

  1. Pragya Shukla - December 31, 2019, 3:14 pm

    Good

  2. दीपक पनेरू - December 31, 2019, 5:26 pm

    good

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 31, 2019, 7:32 pm

    Nice

  4. Kanchan Dwivedi - December 31, 2019, 8:08 pm

    Good

  5. Amod Kumar Ray - January 1, 2020, 1:50 pm

    मस्त।

  6. Priya Choudhary - January 13, 2020, 8:31 am

    Good

Leave a Reply