जीत

खैरात में दे दी है हमने ,अपनी जीत किसी को,
लोगों को लगा ,हम हार के आ गए।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

20 Comments

  1. Indu Pandey - September 8, 2020, 5:06 pm

    जिन्होंने ठान ली हो
    तुम्हें आगे न बढ़ने देने की
    किसी भी तरह पीछे पड़ जाते हैं वे
    तुम्हारी राह रोकने अड़ जाते हैं वे।

  2. Devi Kamla - September 8, 2020, 5:12 pm

    तुझे हराने के हथकंडे कई हैं मगर
    तू बेपरवाह सा चल, होने दे छल

  3. प्रतिमा चौधरी - September 8, 2020, 5:23 pm

    बहुत सुंदर पंक्तियां मैम

  4. MS Lohaghat - September 8, 2020, 5:24 pm

    बहुत सच्ची पंक्तियाँ, यही सच है

  5. Pragya Shukla - September 8, 2020, 5:43 pm

    गजब…

  6. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - September 8, 2020, 6:29 pm

    सुंदर

  7. Satish Pandey - September 8, 2020, 6:47 pm

    बहुत खूब बहुत सुंदर अभिव्यक्ति

    • Geeta kumari - September 8, 2020, 6:59 pm

      बहुत बहुत धन्यवाद आपका सतीश जी 🙏

  8. Isha Pandey - September 23, 2020, 4:23 pm

    Atisundar

  9. Piyush Joshi - September 23, 2020, 4:24 pm

    बहुत खूब

  10. Indu Pandey - September 23, 2020, 6:34 pm

    Bahut khoob, waah Waah

Leave a Reply