मिलना न हुआ

कितनी मिन्नतों के बाद में मिला तुझसे
मगर मिलकर भी मेरा मिलना न हुआ

क़ी कई बातें, कई मर्तबा हमने
मगर इक बात पे कभी फैसला ना हुआ


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Panna.....Ek Khayal...Pathraya Sa!

Related Posts

तेरे न होने का वज़ूद

SHAYARI

The Candle and The Moth

To Love in Chains

3 Comments

  1. Abhishek kumar - November 25, 2019, 10:00 pm

    Nice

Leave a Reply