वो आये कभी पतझङ कभी सावन की तरह

वो आये कभी पतझङ कभी सावन की तरह
जिंदगी हमें मिली हमेशा बस उनकी तरह

फूलों के तसव्वुर में भी हुआ उनका अहसास
आये वो मेरी जिंदगी में खिलती कली की तरह

जब से दी जगह खुदा की उनको दिल में हमने
याद करना उनको हो गया इबादत की तरह

डूब गया दिल दर्द ए गम ए महोब्बत में
बहा ले गयी हमें साहिल ए इश्क में लहरो की तरह

हुई जब रुह रुबरु उनसे जिंदगी ए महफिल में
समा गयी वो मेरी रुह में सांसो की तरह


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Panna.....Ek Khayal...Pathraya Sa!

4 Comments

  1. राम नरेशपुरवाला - September 6, 2019, 7:52 am

    क्या बात है

  2. Abhishek kumar - November 25, 2019, 1:27 am

    🤣🤣

  3. Kanchan Dwivedi - March 11, 2020, 8:47 pm

    Nice

Leave a Reply