एहसास

एहसास की दहलीजों पर
कुछ शब्दों के घेरे हैं

इस प्यार की राह में अक्सर
कुछ दर्द तेरे-मेरे हैं

तुम दूर कहीं ना जाओ
पल-पल ये दिल कहता है

वीरान है तुझ बिन दुनिया
एहसास ये हम करते हैं

तुम आओगे बाहों में
इस आस में हम बैठे हैं

गुजरोगे जिन गलियों से
हम फूल बिछा बैठे हैं

है आज ये तुमसे कहना
तुम बस मेरे ही रहना

चाहें कुछ भी हो जाये
फरियाद ये हम करते है

तुम दूर हो मुझसे फिर
भी एहसास यही होता है

वीरान है तुझ बिन दुनिया
महसूस ये हम करते हैं

प्रज्ञा के दिल की धड़कन
बस गीत है एक ही गाती

तुम बस मेरे हो जाओ
आमीन ये हम करते हैं


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

33 Comments

  1. Pragya Shukla - December 25, 2019, 9:24 am

    🙏🙏

  2. Pragya Shukla - December 25, 2019, 9:48 am

    Vote plz

  3. Abhishek kumar - December 25, 2019, 10:05 am

    मार्मिक रचना.

  4. Kanchan Dwivedi - December 25, 2019, 11:43 am

    अति सुंदर

  5. Abhishek kumar - December 25, 2019, 12:50 pm

    Awesome

  6. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 25, 2019, 3:39 pm

    Atisunder bhav

  7. देवेश साखरे 'देव' - December 25, 2019, 3:59 pm

    बहुत खूब

  8. Amod Kumar Ray - December 25, 2019, 4:03 pm

    Very good

  9. राही अंजाना - December 26, 2019, 9:00 pm

    कर दिया वोट

  10. Abhishek kumar - December 27, 2019, 10:09 pm

    Good

  11. Gijju. Raam - December 28, 2019, 9:50 am

    Good

  12. Roopraani Ji - December 28, 2019, 9:53 am

    Good

  13. Reetu Honey - December 28, 2019, 9:56 am

    👏👏👏

  14. Honey Shukla - December 28, 2019, 9:58 am

    Good

  15. King radhe King - December 28, 2019, 10:01 am

    Waah

  16. Reema Raj - December 28, 2019, 10:04 am

    Good

  17. Atul Shri - December 28, 2019, 10:17 am

    Good nice

Leave a Reply