Mubile nahi jadu hai yah

0

मोबाइल नहीं जादू है यह ,
विज्ञान का कमाल है यह ,
हुआ न होता आविष्कार मोबाइल का तो,
सोचो दुनिया कितनी पीछे होती,
दूर से हम एक दूसरे से बातें ना करते ,
हमारी चिंता घरवालों को ज्यादा होती,
लिफाफा पोस्टकार्ड अब पुराना हो चुका,
चिट्ठी पत्र लेखन अब पुरानी हो चुकी,
अब तो नया जमाना है यह,
इंटरनेट का जमाना है यह ,
व्हाट्सएप फेसबुक का जमाना है यह,
मोबाइल नहीं खजाना है यह ,
,हर सवाल का जवाब है यह ,
बस एक क्लिक पर कर देता दुकान हाजिर यह,
बस एक क्लिक पर कर देता गाड़ी हाजिर यह,
बस एक क्लिक पर कर देता बैंक हाजिर यह,
बस एक क्लिक पर कर देता मुस्कान हाजिर यह |

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. महेश गुप्ता जौनपुरी - September 16, 2019, 3:49 pm

    वाह बहुत सुन्दर रचना

  2. Ashmita Sinha - September 16, 2019, 4:38 pm

    Nice

  3. NIMISHA SINGHAL - September 16, 2019, 5:10 pm

    😀😀

Leave a Reply