मजदूर

कर दी हैं अब लाल वो राहें
भारत माँ के वीरों ने
नाप रहे हैं कदम कदम से
मीलों दूरी भी तकलीफों से।।

Related Articles

लाल चौक बुला रहा हमें, तिरंगा फहराने को

सिहासन के बीमारों ,कविता की ललकार सुनो। छप्पन ऊंची सीना का उतर गया बुखार सुनो। कश्मीर में पीडीपी के संग गठजोड किये बैठे हैं। राष्ट्रवाद…

Maa

🌹*मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं*🌹 💕 माँ- दुःख में सुख का एहसास है, माँ – हरपल मेरे आस पास है। माँ- घर की आत्मा है,…

Responses

New Report

Close